#SBGBT 28 वां पड़ाव मीना दांत का पुरा गाँव, करौली [दिनांक 04 नवम्बर, 2018]



गाँवों में सकारात्मक और रचनात्मक बदलाव की मुहिम "सोच बदलो गांव बदलो यात्रा" अपने 28वें  पड़ाव के रूप में दिनांक 04/11/2018 को गाँव मीना दांत का पुरा (करौली) पहुंची। इस जागरूकता सभा का आयोजन  गांव के युवाओं और कर्मचारियों के के आग्रह पर किया गया| जिसमें  समस्त ग्रामीणों एवं पड़ोसी गाँव के लोगों ने बढ-चढ़कर भाग लिया। टीम के सदस्य भी बडी तादाद में जनजाग्रति फैलाने हेतु इस कार्यक्रम में उपस्थित हुए।

1. *SBGBT* टीम के नेतृत्व में आयोजित यह मीटिंग जनजागरुकता, जनकल्याण और जनसहभागिता की दृष्टि से विशेष महत्व रखती है। जिसका उद्देश्य समाज में व्याप्त सामाजिक बुराइयों, कुरीतियों और व्यसन आदि को ख़त्म कर एक स्वस्थ और सुखी समाज का निर्माण करना है। कार्यक्रम के दौरान *SBGBT* के प्रखर वक्ताओं ने अपने ओजस्वी एवं सकारात्मक वक्तव्यों से  युवाओं और ग्रामीणों में जनजाग्रति पैदा करने के सार्थक प्रयास किये गये।

2. मीटिंग में *मीना दांत का पुरा* गाँव के अलावा *कोटरी, पालनपुर, मोठिया पुरा* के ग्रामीणों एवं युवाओं ने भी भाग लिया। जिसमें स्थानीय गाँव की महिलाओं ने भी बड़ी संख्या में भाग लेकर मीटिंग को यादगार बना दिया।

3. मीटिंग के अंत में *SBGBT* की विचारधारा से प्रेरित और प्रभावित होकर *मीना दाँत का पुरा* के ग्रामीणों ने एकराय से ये संकल्प लिया कि समाज में व्याप्त सामाजिक बुराइयों को खत्म किया जायेगा। जिसके चलते उसी समय ग्रामवासियों वासियो ने *मृत्युभोज* को पूर्ण रूप से बंद करने का निर्णय लिया।

4. ग्रामीणों के द्वारा जनहित में लिए गए अन्य महत्वपूर्ण निर्णय इस प्रकार हैं-

i.  शिक्षा के महत्व को ध्यान में रखते हुए गॉव में यथाशीघ्र पुस्तकालय की स्थापना करना।

ii. गाँव में संचालित उच्च प्राथमिक विद्यालय को क्रमोन्नत करवाने हेतु यथासंभव प्रयास करना।

iii. गरीब असहाय और जरूरतमंद बच्चों को गाँव के कर्मचारी वर्ग के द्वारा शिक्षा के बेहतर अवसर और सहयोग प्रदान करना।

iv. गाँव के बच्चे और युवाओं का उचित मार्गदर्शन करते हुए उन्हें जागरूक और जिम्मेदार नागरिक बनाना।

v.  गाँव को हमेशा स्वच्छ और साफ बनाए रखना।

5. इससे पूर्व ग्राम विकास समिति द्वारा प्रकृति और पर्यवारण संरक्षण को ध्यान में रखते हुए, गांव में *पेड़ काटने पर पूर्णत: प्रतिबंध* लगा दिया गया है। इसके पश्चाच भी, अगर किसी व्यक्ति द्वारा नियम की अवहेलना कर 5 पेड़ काटे जाते हैं, तो उस पर 5100 रुपये के दंड का प्रावधान है।

6. गाँव के युवाओं द्वारा *ग्रीन विलेज क्लीन विलेज अभियान* के तहत गाँव में इस बार *2100 पेड़* लगाए गए, जिनकी सुरक्षा और संरक्षण हेतु *ट्री गर्ड* का भी प्रबंध भी किया गया है।

7. अशिक्षा और जानकारी के अभाव के चलते ग्रामीण सरकारी योजनाओं के लाभ से वंचित ना रहें, इसके लिए गाँव में ही युवाओं द्वारा *ई-मित्र सेवा केन्द्र* की स्थापना की गई है।

8. मीटिंग के अंत में समस्त गाँव वासियों द्वारा ये *सपथ* ली गई, कि गाँव में व्याप्त समस्त सामाजिक बुराइयों, धूम्रपान, शराब आदि व्यसनों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा एवं आपसी प्रेम, सद्भाव, सहयोग समरसता और भाईचारा स्थापित कर गाँव को आर्थिक, समाजिक और नैतिक रूप से सक्षम और मजबूत बनाने के हरसंभव प्रयास किए जाएंगे।

9. *SBGBT* की इस वैचारिक क्रान्ति ने समूचे *हिंडौन क्षेत्र* के युवाओं को जबरदस्त रूप से प्रभावित किया है, जिसके फलस्वरूप यहाँ का प्रत्येक युवा अपने गाँव के बेहतर उत्थान के लिए प्रयास करने में जुट गया है। किसी भी गाँव की उन्नति और ख़ुशी जनजागरुकता और जनसहभागिता पर ही निर्भर है, जो धीरे-धीरे SBGBT के अथक और सार्थक प्रयासों से लोगों में प्रसारित हो रही है।

9. मीना दाँत के पुरा में अपना अमूल्य समय और योगदान देकर उपस्थित हुए सभी सदस्यों और ग्रामीणों का *SBGBT* हार्दिक आभार व्यक्त करती है और ये आशा करती है, कि समाज परिवर्तन की इस जनहितैषी मुहिम को आप सभी का संबल और सहयोग इसी तरह मिलता रहे। इन्हीं मंगलकामनाओं के साथ आप सभी का पुन: अनंत आभार।

*जय हिंद, जय SBGBT।*
Join SBGBT - https://www.facebook.com/groups/SBGBTEAM/

Comments

Popular posts from this blog

"Success story of Smart Village Dhanora of Dholpur, Rajasthan"

"एक गुड़िया की पुकार"

विचार ही वस्तु बन जाते हैं (Thoughts become things)!!_राम प्रकाश मौर्य जी IRS कलम से